लैब तकनीशियनों ने काली पट्टी बांधकर किया काम

खबर शेयर करें

समाचार सच, देहरादून। सरकारी अस्पतालों में तैनात लैब तकनीशियनों ने अपनी लंबित मांगों को लेकर आंदोलन शुरू कर दिया है। उन्होंने काली पट्टी बांधकर काम किया। 23 अक्टूबर को उन्होंने सामूहिक अवकाश लेकर स्वास्थ्य महानिदेशालय पर धरना-प्रदर्शन का एलान किया है।

Ad

उत्तराखंड मेडिकल लैब टेक्नीशियन एसोसिएशन के प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह व महासचिव चंद्रोखर शर्मा ने कहा कि लैब तकनीशियन का काम बहुत ही महत्वपूर्ण व संवेदनशील है। पैथोलाजी लैब, ब्लड बैंक, वीआइपी ड्यूटी सहित तमाम राष्ट्रीय कार्यक्रमों में उनकी सक्रिय भागीदारी रहती है। कोरोना महामारी के दौरान भी लैब तकनीशियन ने अग्रिम मोर्चे पर रहकर काम किया है, लेकिन राज्य गठन के 21 साल बाद भी उनकी घोर उपेक्षा की जा रही है। लैब तकनीशियन अपनी मांगों पर कार्रवाई के लिए शासन-प्रशासन से कई बार गुहार लगा चुके हैं, लेकिन उनकी मांगों को नजरअंदाज किया जा रहा है। संवर्गीय ढांचा और नियमावली की लंबित प्रक्रिया को जल्द पूरा करने, पैरामेडिकल संवर्ग के समान उच्चीकृत वेतनमान, केंद्र के समान जोखिम भत्ता, दस साल की सेवा पूरी कर चुके लैब तकनीशियनों को एमएसीपी का लाभ, अन्य कैडर के समान वाहन भत्ता और राज्य के सभी लैब तकनीशियन को मेस एलाउंस देने की मांग उन्होंने की।

Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *