नाखुन का टूटना और बालों का झड़ना क्या संकेत देते हैं

Ad
खबर शेयर करें

समाचार सच, स्वास्थ्य डेस्क। हमारे शरीर में जब कोई बीमारी हो जाती है, शरीर के कई पार्ट्स पर इसका असर दिखने लगता है, यहां तक हमारे नाखुन और बाल भी इसका संकेत दे देते हैं। यहां हम आपको बताने जा रहे हैं कि आपके बाल आपकी हेल्थ के बारे में क्या बताते हैं।

तनाव की वजह से सफेद हो सकते है बाल
अगर आप बाल उम्र से पहले ही सफेद होने लगते हैं, तो यह तनाव की ओर संकेत करता है। तनाव की वजह से आपके आप सफेद होने लगते हैं। हालांकि ये जेनेटिक भी हो सकता है। इसे लेकर चूहों पर एक टेस्ट किया गया, जिसमें पाया गया कि तनाव से डीएनए को नुकसान पहुंचता है और जो बालों के रोम में वर्णक-उत्पादक कोशिकाओं की सप्लाई को कम करके बालों के सफेद होने में योगदान दे सकते हैं। तनाव के कारण बाल भी झड़ सकते है।

यह भी पढ़ें -   मुलेठी एक ऐसी आयुर्वेदिक औषधि है जो कई प्रकार की बीमारियों से बचाती है

थाइराइड की वजह से पतले हो सकते है बाल
जिन लोगों को थाइराइड की समस्या होती है, उनकी थायरॉयड ग्रंथी पर्याप्त थायराइड हार्माेन का उत्पादन नहीं कर पाती है, जिसकी वजह से बाल झड़ने लगते है और पतले हो जाते है।

यह भी पढ़ें -   रोग प्रतिरोधक क्षमता को मजबूत करेंगे दादी मां के घरेलू नुस्खे

एनीमिया का संकेत हो सकता है बालों का झड़ना
यदि आप अचानक अपने हेयरब्रश में या अपने शॉवर फ्लोर पर बहुत अधिक बाल देख रहे हैं, तो यह एक संकेत हो सकता है कि आपके शरीर में आयरन की कमी है, या एनीमिया है। इसलिए आपको टेस्ट करा लेना चाहिए। ताकि आप इन बीमारियों से बच सके।

प्रोटीन की कमी से झड़ सकते है बाल
बालों के स्वास्थ्य और विकास के लिए प्रोटीन की जरूरत होती है। अगर शरीर में प्रोटीन की कमी होती है, तो बाल पतले और झड़ने लगते हैं।

यह भी पढ़ें -   देसी घी,अदरक और दालचीनी जैसे घरेलू उपायों से कम होगा माईग्रेन का दर्द, जानिए कैसे

डैमेज बाल बताते है कई बीमारियों के बारे में
अगर आपके बाल लगातार खराब हो रहे है तो इसका मतलब है कि आपके शरीर में पोषक तत्वों की कमी है और कई तरह की बीमारियों ने आपके शरीर को जकड़ रखा है। ऐसे में आपको समय-समय पर डॉक्टर की सलाह लेते रहना चाहिए।

Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *