सर्दियों की स्वास्थ्य समस्याएं और घरेलू उपाय

खबर शेयर करें

समाचार सच, स्वास्थ्य डेस्क। सर्दियों में ठंड बढ़ने और हवा के सम्पर्क में आने से कई तरह की स्वास्थ्य समस्याएं बढ़ सकती हैं। सर्दी-जुकाम से लेकर नाक बहने, गला खराब होने, बदन दर्द सिर दर्द जैसी परेशानियां ठंड के मौसम में काफी आम हैं। वहीं, सर्दियों का मौसम में अस्थमा के मरीजों की समस्याएं भी बढ़ सकती है। गले में खराश, कफ बनने और नाक बंद होने जैसी परेशानियों से पीड़ित लोगों की संख्या भी सर्दियों में काफी अधिक बढ़ जाती है। यह सब कमजोर इम्यूनिटी के कारण होता है। जब शरीर की रोग-प्रतिरोधक शक्ति कमजोर हो तो शरीर मौसम में परिवर्तन का सामना नहीं कर पाता है और आसानी से संक्रमण की चपेट में आ जाता है।

सर्दी-जुकाम से राहत के लिए हर्बल टी
ऐसे में ठंड के मौसम में इन कॉमन हेल्थ प्रॉब्लम्स से निपटने के लिए आप कुछ घरेलू नुस्खे आजमाएं जिनके बारे में हम लिख रहे हैं यहां। दरअसल, नेचुरल मसालों, हर्ब्स और जड़ी-बूटियों से बनी चाय के सेवन से इन समस्याओं से आराम मिल सकता है। यहां पढ़ें कॉमन कोल्ड और सर्दियों के मौसम में होनेवाली अन्य बीमारियों से राहत के लिए किस तरह की चाय का सेवन करना चाहिए।

यह भी पढ़ें -   गर्मियों में खूब खाएं आम, सेहत को होंगे ये अनमोल फायदे

मुलेठी की हर्बल टी
ठंड लगने पर मुलेठी की चाय बनाकर पीने से राहत मिल सकती है। मुलेठी के एंटी-बैक्टीरियल तत्व खराब गले और कॉमन कोल्ड जैसी परेशानियों से आराम दिलाती है। बिगड़े गले को आराम दिलाने के लिए मुलेठी की चाय मददगार साबित हो सकती है।

अदरक
खूश्बू से भरपूर अदरक की चाय पाचन तंत्र से लेकर गले की समस्याओं से आराम दिला सकता है। अदरक में एंटी इंफ्लेमेटरी, एंटी बैक्टीरियल और एंटीऑक्सीडेंट मौजूद होते हैं, जो सर्दियों में होने वाली खांसी, जुकाम और कफ जैसी समस्याओं को कम करते हैं।

यह भी पढ़ें -   उत्तराखण्ड सरकार और भारत पेट्रोलियम कारपोरेशन लिमिटेड के मध्य एमओयू पर हस्ताक्षर

तुलसी के पत्तियों की चाय
सर्दी-जुकाम होने पर तुलसी की पत्तियों का काढ़ा या चाय भारतीय परिवारों में आजमाया जाने वाला एक बहुत ही आम नुस्खा है। दरसअल, तुलसी को गुणकारी और बीमारियों से मुक्ति दिलाने वाली आयुर्वेदिक औषधी के तौर पर भी पहचाना जाता है। तुलसी में एंटीऑक्सीडेंट तत्व पाए जाते हैं जो रोग-प्रतिरोधक शक्ति बढ़ाने का काम करता है और सर्दी-ज़ुकाम से राहत मिल सकती है।

कैमोमाइल टी
सेहत के लिए कैमोमाइल टी के अनगिनत तरीकों से फायदेमंद साबित हो सकता है। कैमोमाइल में एंटीऑक्सीडेंट और एंटी-इंफ्लेमेटरी प्रॉपर्टीज पायी जाती हैं जो मौसम के साथ होने वाली बीमारियों से आराम दिला सकता है। सुबह-शाम कैमोमाइल टी पीने से फ्लू, सर्दी-ज़ुकाम और गले की खिचखिच से राहत मिल सकती है।

सबसे पहले ख़बरें पाने के लिए -

👉 हमारे व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़ें

👉 फेसबुक पर जुड़ने हेतु पेज़ लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल सबस्क्राइब करें

हमसे संपर्क करने/विज्ञापन देने हेतु संपर्क करें - +91 70170 85440

Leave a Reply

Your email address will not be published.