ठंडे दूध में भिगोकर खाएं बासी रोटी, जड़ से खत्म हो जाएंगे ये रोग

Ad
Ad
खबर शेयर करें

समाचार सच, स्वास्थ्य डेस्क। बासी खाना आमतौर पर सेहत के लिए हानिकारक माना जाता है। इससे एसिडिटी और फूड पॉइजनिंग की दिक्कत हो सकती है। हम अक्सर घर में बचा बासी खाना या तो फेक देते हैं या फिर जानवरों को खिला देते हैं। मगर क्घ्या आप जानते हैं कि ठंडे दूध में बासी रोटी का रोजाना सेवन एसिडिटी, गैस, ब्लड प्रेशर और डायबिटीज जैसी कई स्वास्थ्य समस्याओं के इलाज में मदद करता है। सेलिब्रिटी न्यूट्रिशनिस्ट संध्या गुगनानी के अनुसार ‘चपाती में कम ग्लाइसेमिक इंडेक्स होता है। यह विटामिन बी, आयरन, कैल्शियम, मैग्नीशियम और पोटेशियम से भरपूर होती है। वहीं, ग्लूटेन से एलर्जी वाले लोग ज्वार, बाजरा, रागी जैसे अन्य आटे का विकल्प चुन सकते हैं, जो काफी हेल्दी होता है। गेहूं के आटे से बनी रोटी अगर रात में बना कर सुबह नाश्ते के दौरान या 12-15 घंटों के भीतर खाई जाए तो इसका हेल्थ पर कोई बुरा प्रभाव नहीं पड़ेगा। यहां जानें बासी रोटी किस तरह से दवाई का काम करती है…

यह भी पढ़ें -   जानिए बड़ी इलायची के फायदे, जो बीमारियों से बचाव में आपकी मदद करता है

ब्लड शुगर लेवल को संतुलित करता है
सुबह के समय ठंडे दूध के साथ बासी रोटी का सेवन करने से रक्तचाप की समस्या से राहत मिलती है। ठंडे दूध में बासी रोटी भिगोएं और इसे 10 मिनट के लिए छोड़ दें। फिर इसे नाश्ते के रूप में खाएं। इससे ब्लड प्रेशर के स्तर को नियंत्रित रखने में मदद मिलेगी।

यह भी पढ़ें -   फलाहार ही नहीं एनर्जी का फुल डोज है साबुदाना, आइए जानते हैं इसके गुणों के बारे में

पेट की समस्याओं को दूर करता है
सोने से पहले बासी रोटी को ठंडे दूध में भिगोने से कब्ज, गैस, एसिडिटी और पेट फूलने जैसी कई बीमारियों से मुक्ति मिल सकती है।

डायबिटीज करे कंट्रोल
जो लोग मधुमेह से पीड़ित हैं, उनके लिए बासी रोटी शुगर के लेवल को बनाए रखने के लिए सबसे अच्छा घरेलू उपायों में से एक है। बासी रोटी को ठंडे दूध में भिगोकर 10-15 मिनट के लिए छोड़ दें और दिन के किसी भी समय इसका सेवन करें।

शरीर के तापमान को नियंत्रित करती है
बासी रोटियों को ठंडे दूध में भिगोने से आंत को राहत मिलती है। इससे शरीर का तापमान नियंत्रित होता है। साथ ही यह पोषण से भरी हुई होती है।

यह भी पढ़ें -   फलाहार ही नहीं एनर्जी का फुल डोज है साबुदाना, आइए जानते हैं इसके गुणों के बारे में

कितने समय तक स्घ्टोर की रोटी होती है फायदेमंद
रोटियों या चपाती को 15 घंटे से अधिक समय तक स्टोर नहीं की जानी चाहिये। ऐसा इसलिये क्योंकि वे रबड़ जैसी सख्त और खाने में मुश्किल हो सकती हैं। यदि आप अगले दिन बासी रोटी खाना चाहते हैं, तो सुनिश्चित करें कि आप इसे गर्म करने के लिए घी या तेल लगा लें।

बासी रोटी खाने का सबसे बढियां तरीका
दूध के साथ बासी चपाती खाने से आपकी सेहत पर अच्छा असर पड़ सकता है। साथ ही विभिन्न स्वास्थ्य समस्याओं के इलाज में भी मदद मिलती है।

Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *