अगर बार-बार होती है उल्टी तो इस्तेमाल करें घर में रखी ये चीजें

खबर शेयर करें

समाचार सच, स्वास्थ्य डेस्क। उल्टी किसी को भी हो सकती है। ये एक ऐसी समस्या है जिसके पीछे कोई ठोस वजह नहीं है। ये किसी गंभीर बीमारी जैसे कि पेट में इंफेक्शन, अल्सर और लिवर खराब होने के कारण हो सकता है तो, ये कुछ आम समस्याएं जैसी कि एसिडिटी, बदहजमी और पेट फूलने के कारण हो सकती है। लेकिन अगर आपको सिर्फ उल्टी हो रही है और इसके साथ कुछ और समस्याएं नहीं है तो आप उल्टी के लिए रोकने के लिए कुछ घरेलू उपायों की मदद ले सकते हैं। तो, आइए आज हम आपको कुछ ऐसे घरेलू उपायों के बारे में बताते हैं जो कि आसानी से उल्टी बंद करने में मदद कर सकते हैं। साथ ही ये आपके घर की रसोई में ही मिल जाएंगे। तो, आइए जानते हैं।

मुंह में रख लें काली मिर्च के दाने
अगर आपको बार-बार उल्टी और मतली की समस्या होती है तो काली मिर्च आपके लिए एक रामबाण इलाज है। उल्घ्टी जैसा लगने पर दो चार दाने काली मिर्च लेकर इसे मुंह में रख लें। इसके अलावा कुछ काली मिर्चको आप कूट कर व नमक मिला कर भी ले सकते हैं। ये आपकी बदहजमी को दूर करता है और मतली को बंद करता है और उल्टी को रोकता है।

यह भी पढ़ें -   पत्थरचट्टा एक आयुर्वेदिक जड़ी - बूटी है जिसमें कई प्रकार के स्वास्थ्यवर्धक गुण होते हैं

कलौंजी को मुंह में रख कर चबाएं
कलौंजी को मुंह में रख कर चबाएं। ये उल्टी को रोकने में मदद करता है। असल में ये एंटीइंफ्लेमेटरी गुणों से भरपूर होने के साथ इसमें कुछ एरोमा भी है जो कि उल्टी क रोकता है। इसके अलावा ये मतली और बदहजमी को ठीक करने में भी मददगार है। इसके अलाा अगर आप कलौंजी को ऐसे नहीं खा सकते हैं तो आप इसके तेल का इस्तेमाल कर सकते हैं।

अदरक में काला नमक मिला कर मुंह में रख लें
अदरक मतली और उल्टी के लिए अच्छा काम करता है। अदरक का एक छोटा टुकड़ा पीस लें, कद्दूकस किए हुए अदरक को नमक में मिलाएं और मुंह में दबा लें। इसका रस तुरंत ही उल्टी को कम करने में मदद करेगा। इसके अलावा अगर आप गैस और बदहजमी की समस्या है तो ये गैस को न्यूट्रिलाइज करके एसिडिट को कम करने में मदद करेगा।

यह भी पढ़ें -   शनि ग्रह को इन उपायों से करें मजबूत, रंक से राजा बनाने का है गुण

इमली खाएं
इमली को पीसकर उसका रस निकाल लें और अब इस गाढ़े रस में शहद मिला कर खा लें। ये एसिडिटी दूर करने के साथ बदहजमी की समस्या को भी करने में आपकी मदद करेगा। साथ ये आपके मूड को भी बेहतर बना देगा। इसके अलावा अगर आप रास्ते में हैं तो आप इमली को ऐसे भी खा सकते हैं। ये आप सफर में मतली को रोकेगा, मन शांत रखेगा और पाचन तंत्र को भी सही रखेगा।

धनिया के बीजों को भून कर काला नमक के साथ खाएं
धनिया के बीज एंटाएसिड होने के साथ मतली और उल्टी की समस्य में बेहद कारगर तरीके से काम करते हैं। इसके लिए पहले तो धनिया के बीजों को भून कर रख लें और काला नमक के साथ इसे चबा-चबा कर खाएं। फिर एक गिलास पानी पिएं। ये आपकी उल्टी की समस्या को कुछ देर में दूर कर देगा।

सबसे पहले ख़बरें पाने के लिए -

👉 हमारे व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़ें

👉 फेसबुक पर जुड़ने हेतु पेज़ लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल सबस्क्राइब करें

हमसे संपर्क करने/विज्ञापन देने हेतु संपर्क करें - +91 70170 85440

Leave a Reply

Your email address will not be published.