हाथ पैरों में जलन का घरेलू उपाय है मिश्री का पानी, जानें गर्मियों में इसे पीने के खास फायदे

खबर शेयर करें

समाचार सच, स्वास्थ्य डेस्क। मिश्री चीनी की तुलना में थोड़ा कम मीठा होता है। चूंकि इसे पानी और चीनी के घोल से बनाया जाता है, इसलिए यह रिफाइंड चीनी की तुलना में अधिक पतला होता है और शरीर के लिए फायदेमंद होता है। इसकी खास बात ये है कि इसमें कैलोरी कम होती है लेकिए कार्ब्स होते हैं जो कि एनर्जी बूस्ट करने में मदद करते हैं। मिश्री को लोग कई प्रकार से खाने में इस्तेमल करते हैं। लेकिन आपको ये जान कर हैरानी हो सकती है कि मिश्री की मिठास आयुर्वेद में कई समस्याओं को दूर करने के लिए इस्तेमाल होता है। इसकी ठंडक जहां शरीर के पीएच लेवल को बैलेंस करती है वहीं, ये पीठ पर दाने और वात व पित्त के कारण होने वाली समस्याओं से बचाता है। इसके अलावा भी मिश्री का पानी पीने के कई फायदे हैं।

आइए जानते हैं इसे बनाने का तरीका और 5 फायदे।

मिश्री का पानी बनाने के लिए आपको ज्यादा मेहनत करने की जरूरत नहीं पड़ेगी। इसके लिए बस आपको एक मिट्टी के बर्तन या ग्लास में पानी भर कर और इसमें मिश्री डाल कर रातभर रखना है। फिर सुबह आप पाएंगे ये मिश्री पूरी तरह से घुल चुकी होगी। साथ ही मिट्टी के बर्तन में रखने से ये और ठंडा हो जाएगा और इसके मिरल तत्व बढ़ जाएंगे। इसे पीने से शरीर को कई फायदे मिलते हैं। जैसे कि –

यह भी पढ़ें -   चम्पावत की जनता को लगानी है विकास पर मोहर : गणेश जोशी

हाथ पैरों की जलन को दूर करता है
मिश्री का पानी हाथों की जलनको दूर करता है। दरअसल, हाथ पैरो की जलन के पाछे एक बड़ा कारण होता है शरीर में बढ़ी हुई गर्मी। ऐसे में जरूरी ये है कि आप हाथ पैरों की जलन को दूर करने के लिए मिश्री का पानी पिएं। ये पहले तो शरीर की बढ़ी हुए गर्मी को कम करता है और शरीर के पीएच लेवल को बैलेंस करने में मदद करता है। इसे रेगुलर पीकर आप इन समस्याओं से बच सकते हैं।

मुंह के छालों को कम करता है
जिन लोगों को बार-बार मुंह में छाले निकल आते हैं उनके लिए मिश्री का पानी बहुत ही फायदेमंद है। दरअसल, ये समस्या विटामिन बी की कमी से या शरीर में गर्मी के बढ़ने से होती है। ऐसे मे मिश्री का पानी मुंह के छालों को ठीक करने में मदद करता है और रेगुलर इसका सेवन करने से आप इस समस्या से लंबे समय के लिए राहत पी सकते हैं।

यह भी पढ़ें -   बिजली दरों में वृद्धि के प्रस्ताव पर छह जून को जन सुनवाई करेगा उत्तराखंड विद्युत नियामक आयोग

पेशाब की जलन को दूर करता है
मिश्री का पानी पेशाब को कम करने में मददगार है। ये पेट के पीएच को मैनेज करता है और इसके एसिडिक पीएच को बेसिक बनाता है। इसके अलावा मिश्री की पानी डायूरेटिक की तरह काम करता है जो कि पेशाब को आसान बनाता है और इसकी जलन को दूर करता है। पेशाब में जलन होने पर इसका रेगुलर सेवन बहुत फायदेमंद है।

नाक सूख जाने पर फायदेमंद है
शरीर में पानी की कमी से नाक सूख जाने की समस्या होने लगती है। ऐसे में मिश्री के पानी का सेवन शरीर में हाइड्रेशन को बहाल करता है और नाक सूख जाने की समस्या या नाक से खून बहने को रोकता है। इसके अलावा ये गर्मियों में डिहाइड्रेशन से भी बचाता है और शरीर में हाइड्रेशन बनाए रखता है।

खून की कमी को दूर करता है
महिलाओं के लिए मिश्री का पानी सेवन बहुत फायदेमंद है। दरअसल, ये आयरन से भरपूर होता है जो कि रेड ब्लड सेल्स के प्रोडक्शन को बढ़ावा देता है। ये शरीर में खून की कमी को दूर करता है और महिलाओं में पीरियड्स और प्रेग्नेंसी के दौरान होनी वाली समस्याओं से बचाता है।

सबसे पहले ख़बरें पाने के लिए -

👉 हमारे व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़ें

👉 फेसबुक पर जुड़ने हेतु पेज़ लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल सबस्क्राइब करें

हमसे संपर्क करने/विज्ञापन देने हेतु संपर्क करें - +91 70170 85440

Leave a Reply

Your email address will not be published.