शकरकंद के ये फायदे जान लेंगे तो सर्दियों में रोज खाएंगे आप

खबर शेयर करें

समाचार सच, स्वास्थ्य डेस्क। शकरकंद को स्वीट पोटैटो के नाम से भी जाना जाता है और इसमें ऊर्जा का खजाना होता है। अक्सर लोग इसे आलू से जोड़कर देखते हैं लेकिन पोषक तत्वों और स्वास्थ्य के लिहाज से इसके कई फायदे हैं।

Ad

-शकरकंद या स्वीट पोटैटो का सेवन सर्दियों में लाभदायक होता है। सर्दियों में कंद-मूल अधिक फायदेमंद रहते हैं, क्योंकि ये शरीर को गर्म रखते हैं। शकरकंद की गहरे रंग की प्रजाति में कैरोटिनॉयड जैसे, बीटा-कैरोटीन और विटामिन ए अधिक मात्रा में पाया जाता है। 100 ग्राम शकरकंद में 400 फीसदी से अधिक विटामिन ए पाया जाता है।

-शकरकंद में आयरन, फोलेट, कॉपर, मैगनीशियम, विटामिन्स आदि होते हैं, जिससे इम्यून सिस्टम मजबूत बनता है। इसको खाने से त्वचा में चमक आती है और चेहरे पर जल्दी झुर्रियां नहीं पड़ती। इसमें मौजूद विटामिन सी त्वचा में कोलाजिन का निर्माण करता है जिससे आप सदाबाहर जवां और खूबसूरत रहते हैं।

-शकरकंद डायट्री फाइबर और कार्बाेहाइड्रेट से भरपूर होता है। शकरकन्द खाने में मीठा होता है। इसके सेवन से खून बढ़ता है, शरीर मोटा होता है साथ ही यह कामशक्ति को भी बढ़ाता है। नारंगी रंग के शकरकंद में विटामिन ए भरपूर मात्रा में पाया जाता है। शकरकंद में कैरोटीनॉयड नामक तत्व पाया जाता है जो ब्लड शुगर को नियंत्रित करता है। वहीं इसमें मौजूद विटामिन बी6 डायबिटिक हार्ट डिजीज में भी फायदेमंद होता है।

-यह उच्च मात्रा वाला स्टार्च फूड है, जिसके 100 ग्राम में 90 कैलोरीज होती हैं। शकरकंद खाने में मीठा होता है। इसके सेवन से मोटापा, मधुमेह, हृदय रोगों और सम्पूर्ण तौर पर मृत्युकारक जोखिम कम होते हैं। यह आरोग्यवर्धक तथा ऊर्जा वर्धक होता है, पर वजन को कम करने में मददगार होता है।

-अगर आपको का ब्लड शुगर लेवल कुछ भी खाने से तुरंत ही बढ जाता है तो, शकरकंद खाना ज्यादा अच्छा होता है। इसे खाने से ब्लड शुगर हमेशा नियन्त्रित रहता है और इंसुलिन को बढने नहीं देता।

यह भी पढ़ें -   छींके आना बंद नहीं हो रहीं? ये रहे बेहतरीन घरेलू उपाय

-शकरकंद में कैलोरी और स्टार्च की सामान्य मात्रा होती है. वहीं, सैचुरेटेड फैट और कोलेस्ट्रॉल की मात्रा इसमें न के बराबर रहती है। इसमें फाइबर, एंटी-ऑक्सीडेंट्स, विटामिन और लवण भरपूर पाए जाते हैं।

-शकरकंद में भरपूर मात्रा में विटामिन बी6 पाया जाता है, जो शरीर में होमोसिस्टीन नाम के अमीनो एसिड के स्तर को कम करने में सहायक होता है। अगर इस अमीनो एसिड की मात्रा बढ़ने पर बीमारियों का खतरा भी बढ़ जाता है।

-शकरकंद विटामिन डी का एक बहुत अच्छा सोर्स है। यह विटामिन दांतों, हड्डियों, त्वचा और नसों की ग्रोथ और मजबूती के लिए आवश्यक होता है। शकरकंद विटामिन ए का बहुत अच्छा माध्यम है। इसके सेवन से शरीर की 90 प्रतिशत तक विटामिन ए की पूर्ति हो जाती है।

-शकरकंद में भरपूर मात्रा में आयरन होता है। आयरन की कमी से हमारे शरीर में एनर्जी नहीं रहती, रोग प्रतिरोधक क्षमता प्रभावित होती है और ब्लड सेल्स का निर्माण भी ठीक से नहीं होता। शकरकंद आयरन की कमी को दूर करने में मददगार रहता है।

-शकरकंद पोटैशियम का एक बहुत अच्छा माध्यम है. यह नर्वस सिस्टम की सक्रियता को सही बनाए रखने के लिए आवश्यक है। साथ ही किडनी को भी स्वस्थ रखने में महत्वपूर्ण योगदान देता है।

स्वीट पोटैटो का सेवन आमतौर पर रोजाना नहीं किया जाता, लेकिन आपको मार्केट में बड़ी आसानी से मिलता भी है। इसकी लोकप्रियता लोगों के बीच है लेकिन उतनी ज्यादा नहीं कि सभी लोग इसे अपनी हर दिन की डायट में शाामिल करते हों। हालांकि, स्वीट पोटैटो के फायदे जानने के बाद आप भी इसका सेवन करना शुरू कर सकते हैं, क्योंकि इससे होने वाले कई फायदे आपको कई तरह के रोगों से बचाए रखने का गुण रखते हैं।

फेफड़ों के लिए
फेफड़ों की कार्य प्रणाली सुचारू रूप से चलना आपके श्वसन तंत्र के लिए बहुत जरूरी होता है। इनमें अगर किसी भी प्रकार की कमी आती है तो आपको सांस से जुड़ी कई प्रकार की बीमारियां हो सकती हैं। स्वीट पोटैटो का सेवन करने से इसमें मौजूद पोषक तत्व आपकी फेफड़ों की कार्यप्रणाली को सही ढंग से चलाने का कार्य करते हैं। इसलिए सांस से जुड़ी हुई किसी भी बीमारी से बचे रहने और फेफड़ों को स्वस्थ रखने के लिए स्वीट पोटैटो का सेवन करना लाभदायक हो सकता है।

यह भी पढ़ें -   छींके आना बंद नहीं हो रहीं? ये रहे बेहतरीन घरेलू उपाय

आंखों के लिए लाभदायक
आंखों के लिए सबसे जरूरी विटामिन की बात की जाए तो वह विटामिन ए है। यह आंखों को स्वस्थ रखने के साथ-साथ दृष्टि क्षमता को भी विकसित करता है और उसमें होने वाली विकार को दूर करने में भी मददगार साबित होता है। स्वीट पोटैटो में बीटा कैरोटीन की मात्रा पाई जाती है जो विटामिन ए का एक स्वरूप ही है। इसलिए इसका सेवन करने से आपको बीटा कैरोटीन की पूर्ति होगी जो आंखों के लिए विटामिन ए के रूप में काफी कारगर साबित होगा।

दिल की बीमारी से बचाए रखने में
स्वीट पोटैटो में ऐसी औषधीय गुण भी पाए जाते हैं जिसके कारण आप कई प्रकार के हृदय रोगों से भी बचे रह सकते हैं। दरअसल, स्वीट पोटैटो में कार्डियोप्रोटेक्टिव प्रभाव पाया जाता है। यह एक ऐसा प्रभाव होता है जो आपके हृदय को किसी भी बीमारी या फिर उसके लिए होने वाले जोखिम से बचाए रखने का गुण रखता है। इतना ही नहीं, दिल के मरीज इसका सेवन रोजाना भी कर सकते हैं।

डायबिटीज के मरीजों के लिए
डायबिटीज के मरीजों के लिए खानपान पर विशेष ध्यान देना आवश्यक माना जाता है, क्योंकि उनके खानपान में असंतुलन के कारण ब्लड शुगर लेवल में बढ़ोत्तरी हो सकती है जो उनके स्वास्थ्य स्थिति को बुरा बना सकता है। जबकि स्वीट पोटैटो में एंटी डायबेटिक गुण पाया जाता है। इस कारण यदि आप इसका सेवन करते हैं तो यह डायबिटीज की चपेट में आने से आपको बचाएगा और साथ ही साथ इससे होने वाले जोखिम से भी आपके शरीर को सुरक्षा प्रदान करेगा।

यह भी पढ़ें -   छींके आना बंद नहीं हो रहीं? ये रहे बेहतरीन घरेलू उपाय

डिटॉक्सीकरण के लिए
शरीर में ऐसे कई हानिकारक अपशिष्ट पदार्थ भी बनते हैं जो शरीर से बाहर निकलने भी बहुत जरूरी होते हैं। कभी-कभी शारीरिक प्रक्रिया ठीक तरीके से कार्य नहीं करती और उसके कारण यह अपशिष्ट पदार्थ शरीर में ही मौजूद रहते हैं। इसके लिए शरीर को डिटॉक्सिफाई करना बहुत जरूरी होता है और उसके लिए स्वीट पोटैटो एक बेहतरीन विकल्प के रूप में इस्तेमाल किया जा सकता है।

सूजन को कम करने में
कभी-कभी चोट लग जाने के कारण या फिर नसों में खिंचाव हो जाने के कारण शरीर के किसी अंग में सूजन हो जाती है, तो इससे बचे रहने के लिए भी स्वीट पोटैटो एक औषधि के रूप में कार्य करेगा, क्योंकि इसमें एंटी इन्फ्लेमेट्री गुण पाए जाते हैं। यह गुण सूजन को कम करने के लिए सक्रिय रूप से कार्य करते हैं। इसलिए ऐसी समस्याओं से बचे रहने के लिए स्वीट पोटैटो का सेवन किया जा सकता है।
पेट को ठंडक पहुंचाता है

पेट को ठंडक पहुंचाने के लिए भी स्वीट पोटैटो काफी फायदेमंद माना जाता है क्योंकि इसमें कॉल्मिंग प्रभाव पाया जाता है। कई लोगों को खाना खाने के बाद या फिर पाचन क्रिया ठीक से ना होने के कारण उनके पेट में जलन होने लगती है, तो ऐसे लोगों के लिए स्वीट पोटैटो का सेवन काफी फायदेमंद रहेगा।

इम्यूनिटी को मजबूत करे
रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाए रखने के लिए भी स्वीट पोटैटो काफी फायदेमंद रहेगा, क्योंकि इसमें इम्यून सेल्स को मजबूत करने के साथ-साथ रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने का सक्रिय गुण पाया जाता है। इसलिए कोरोना वायरस के बढ़ते हुए संक्रमण को देखते हुए भी आप अपनी इम्यूनिटी को मजबूत करने वाले फूड्स के रूप में स्वीट पोटैटो का सेवन कर सकते हैं। यह आपको किसी भी सब्जी की दुकान पर बड़ी आसानी से मिल जाएगा।

Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *